Dowry Led To The Death Of Mother And Daughter In Bikaner Rajasthan – बीकानेर: पानी की टंकी में मिला मां-बेटी का शव, ससुरालवालों पर दहेज हत्या का मामला दर्ज

0
13
Dowry Led To The Death Of Mother And Daughter In Bikaner Rajasthan - बीकानेर: पानी की टंकी में मिला मां-बेटी का शव, ससुरालवालों पर दहेज हत्या का मामला दर्ज


ख़बर सुनें

राजस्थान के बीकानेर में दहेज को लेकर एक सनसनीखेज घटना सामने आई है। नत्थूसरबास इलाके के एक मकान में पानी की टंकी से मां-बेटी का शव मिलने से पूरे क्षेत्र के लोग सकते में आ गए। मृतक महिला के पिता मोहन स्वामी ने महिला पुलिस थाने में शिकायत की, जिसके आधार पर मृतका के पति, सास-ससुर और देवर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। 

महिला के पिता सूरतगढ़ के ठुकराना गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने पुलिस को रिपोर्ट में बताया कि उनकी बेटी प्रेरणा की शादी 29 जनवरी 2015 काे कमलकांत स्वामी से हुई थी। दहेज और लेन-देन को लेकर उस समय से ही दोनो परिवारों के बीच विवाद था। शादी के समय 10 लाख रुपए की दहेज राशि को लेकर विवाद हुआ था, लेकिन लोगों और पंचायत के हस्तक्षेप के बाद साेने-चांदी के आभूषण व घरेलू सामान के अलावा पांच लाख रुपए पर लड़के के परिवार को मानना पड़ा। 

शादी के कुछ दिनों बाद फिर से पांच लाख रुपए की मांग उठने लगी। इसे लेकर प्रेरणा को परेशान किया जाने लगा। जिसके बाद पति कमलकांत, ससुर मुरलीधर और सास मंजू स्वामी ने फिर से पांच लाख रुपए या फिर मकान बनवाकर देने का दबाव डालना शुरु किर दिया। 

जिसे लेकर ससुराल पक्ष के लोग महिला के साथ मारपीट भी करते थे। परेशान होकर उसने अपने परिवारजनों को आपबीती बताई। प्रेरणा ने अपने परिवार वालों को रविवार सुबह बीकानेर आने को कहा था। वहां पहुंचते ही उनलोगों को पता चला कि प्रेरणा की मौत हो चुकी है। अब शिकायत दर्ज हो जाने के बाद मामले की जांच की जा रही है। घटना की जांच सीओ सिटी सुभाष शर्मा कर रहे हैं। 

राजस्थान के बीकानेर में दहेज को लेकर एक सनसनीखेज घटना सामने आई है। नत्थूसरबास इलाके के एक मकान में पानी की टंकी से मां-बेटी का शव मिलने से पूरे क्षेत्र के लोग सकते में आ गए। मृतक महिला के पिता मोहन स्वामी ने महिला पुलिस थाने में शिकायत की, जिसके आधार पर मृतका के पति, सास-ससुर और देवर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। 

महिला के पिता सूरतगढ़ के ठुकराना गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने पुलिस को रिपोर्ट में बताया कि उनकी बेटी प्रेरणा की शादी 29 जनवरी 2015 काे कमलकांत स्वामी से हुई थी। दहेज और लेन-देन को लेकर उस समय से ही दोनो परिवारों के बीच विवाद था। शादी के समय 10 लाख रुपए की दहेज राशि को लेकर विवाद हुआ था, लेकिन लोगों और पंचायत के हस्तक्षेप के बाद साेने-चांदी के आभूषण व घरेलू सामान के अलावा पांच लाख रुपए पर लड़के के परिवार को मानना पड़ा। 

शादी के कुछ दिनों बाद फिर से पांच लाख रुपए की मांग उठने लगी। इसे लेकर प्रेरणा को परेशान किया जाने लगा। जिसके बाद पति कमलकांत, ससुर मुरलीधर और सास मंजू स्वामी ने फिर से पांच लाख रुपए या फिर मकान बनवाकर देने का दबाव डालना शुरु किर दिया। 

जिसे लेकर ससुराल पक्ष के लोग महिला के साथ मारपीट भी करते थे। परेशान होकर उसने अपने परिवारजनों को आपबीती बताई। प्रेरणा ने अपने परिवार वालों को रविवार सुबह बीकानेर आने को कहा था। वहां पहुंचते ही उनलोगों को पता चला कि प्रेरणा की मौत हो चुकी है। अब शिकायत दर्ज हो जाने के बाद मामले की जांच की जा रही है। घटना की जांच सीओ सिटी सुभाष शर्मा कर रहे हैं। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here