Lok Sabha Election 2019: 200 Soldiers Were Hungry From Two Days During Duty – दो दिन से भूखे थे चुनावी ड्यूटी पर तैनात 200 जवान, कैमरे पर निकाला गुस्सा

0
20
Lok Sabha Election 2019: 200 Soldiers Were Hungry From Two Days During Duty - दो दिन से भूखे थे चुनावी ड्यूटी पर तैनात 200 जवान, कैमरे पर निकाला गुस्सा


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बांसवाड़ा
Updated Thu, 02 May 2019 09:41 AM IST

ख़बर सुनें

देश में लोकतंत्र का महापर्व चुनाव चल रहे हैं। ऐसे में चुनावी ड्यूटी पर जवानों की तैनाती की गई है। मगर ड्यूटी के दौरान भुगतान नहीं होने से लगभग 200 जवानों को दो दिनों तक भूखा रहना पड़ा। जिसके बाद उनका गुस्सा चरम पर पहुंच गया और उन्होंने आगे चुनावी ड्यूटी करने से मना कर दिया। 

धूप में बैठकर जवानों ने विरोध भी जताया। यह मामला राजस्थान के बांसवाड़ा जिले की है। जहां होमगार्ड के 200 जवानों को तैनात किया गया है। शहर के एक स्कूल में ठहरे इन जवानों ने बताया कि उनके पास दो दिनों से एक पैसा तक नहीं है और उनका खाना मेस में बनता है। इसी वजह से वह दो दिनों से भूखे हैं। 

ऐसी परिस्थिति में प्रशासन ने उन्हें भुगतान किए बिना एक और दो मई को चुरू और भरतपुर रवाना होने के लिए कह रहा है। जिससे कि वह नाराज हैं। बाड़मेर डी कंपनी के जवान खेरसिंह ने कहा कि वह पूरे भारत में ड्यूटी करने के लिए तैयार हैं और वह पहले भी चुनावी ड्यूटी कर चुके हैं। मगर बिना भुगतान के काम नहीं चलेगा। उनका कहना है कि वह अधिकारियों के आदेशों का पालन करने के लिए तैयार हैं लेकिन भूखे पेट काम नहीं हो सकता है। 

जब मीडिया में यह घटना सामने आई तो आनन-फानन में प्रशासन के अफसर जवानों तक पहुंचे और उन्हें बताया कि दो दिन का भुगतान करने का आदेश जारी हो गया है। जो उन्हें जल्द मिल जाएगा। इसके बाद जवान ड्यूटी करने के लिए तैयार हुए। तौसाराम नाम के जवान के अनुसार पहले एडवांस राशि जमा की जाती है जिसके बाद मेस में खाना बनता है लेकिन ऐसा न होने की वजह से दो दिनों तक मेस में खाना नहीं बन रहा है। 

राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव होने हैं। पहले चरण में 12 सीटों के लिए 29 अप्रैल को मतदान हो चुके हैं। वहीं 13 सीटों के लिए दूसरे चरण में 6 मई को मतदान होने हैं। 23 मई को नतीजे आएंगे।

देश में लोकतंत्र का महापर्व चुनाव चल रहे हैं। ऐसे में चुनावी ड्यूटी पर जवानों की तैनाती की गई है। मगर ड्यूटी के दौरान भुगतान नहीं होने से लगभग 200 जवानों को दो दिनों तक भूखा रहना पड़ा। जिसके बाद उनका गुस्सा चरम पर पहुंच गया और उन्होंने आगे चुनावी ड्यूटी करने से मना कर दिया। 

धूप में बैठकर जवानों ने विरोध भी जताया। यह मामला राजस्थान के बांसवाड़ा जिले की है। जहां होमगार्ड के 200 जवानों को तैनात किया गया है। शहर के एक स्कूल में ठहरे इन जवानों ने बताया कि उनके पास दो दिनों से एक पैसा तक नहीं है और उनका खाना मेस में बनता है। इसी वजह से वह दो दिनों से भूखे हैं। 

ऐसी परिस्थिति में प्रशासन ने उन्हें भुगतान किए बिना एक और दो मई को चुरू और भरतपुर रवाना होने के लिए कह रहा है। जिससे कि वह नाराज हैं। बाड़मेर डी कंपनी के जवान खेरसिंह ने कहा कि वह पूरे भारत में ड्यूटी करने के लिए तैयार हैं और वह पहले भी चुनावी ड्यूटी कर चुके हैं। मगर बिना भुगतान के काम नहीं चलेगा। उनका कहना है कि वह अधिकारियों के आदेशों का पालन करने के लिए तैयार हैं लेकिन भूखे पेट काम नहीं हो सकता है। 

जब मीडिया में यह घटना सामने आई तो आनन-फानन में प्रशासन के अफसर जवानों तक पहुंचे और उन्हें बताया कि दो दिन का भुगतान करने का आदेश जारी हो गया है। जो उन्हें जल्द मिल जाएगा। इसके बाद जवान ड्यूटी करने के लिए तैयार हुए। तौसाराम नाम के जवान के अनुसार पहले एडवांस राशि जमा की जाती है जिसके बाद मेस में खाना बनता है लेकिन ऐसा न होने की वजह से दो दिनों तक मेस में खाना नहीं बन रहा है। 

राजस्थान की 25 लोकसभा सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव होने हैं। पहले चरण में 12 सीटों के लिए 29 अप्रैल को मतदान हो चुके हैं। वहीं 13 सीटों के लिए दूसरे चरण में 6 मई को मतदान होने हैं। 23 मई को नतीजे आएंगे।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here