Lok Sabha Election 2019: Rahul Gandhi Will Meet The Sexually Exploited Dalit Woman In Alwar Today – पंजाब में चुनाव प्रचार से पहले अलवर सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता से मिलने जाएंगे राहुल गांधी

0
16
Lok Sabha Election 2019: Rahul Gandhi Will Meet The Sexually Exploited Dalit Woman In Alwar Today - पंजाब में चुनाव प्रचार से पहले अलवर सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता से मिलने जाएंगे राहुल गांधी


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर
Updated Wed, 15 May 2019 09:18 AM IST

रांहुल गांधी (फाइल फोटो)
– फोटो : Twitter

ख़बर सुनें

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को राजस्थान में अलवर सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता से मुलाकात करेंगे। अनुसूचित जाति की महिला के साथ कथित तौर पर 26 अप्रैल को पांच लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। केवल इतना ही नहीं आरोपियों ने उसके पति को बुरी तरह मारा था और उनके पास मौजूद दो हजार रुपये लूट लिए थे। 

राहुल चुनाव प्रचार के लिए पंजाब जाने से पहले पीड़िता से मिलेंगे। पंजाब में आखिरी चरण की सीटों के लिए रविवार को मतदान होने हैं। गांधी महिला से ऐसे समय पर मुलाकात करने के लिए जा रहे हैं जब राज्य सरकार को भाजपा इस मामले को लेकर घेर रही है। जब पीड़िता पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुंची तो उसे यह कहकर भेज दिया गया कि अभी चुनाव हैं।  

राजस्थान सरकार ने एफआईआर दर्ज करने में देरी की। दुष्कर्म का वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया तो दबाव में आकर पुलिस को एफआईआर दर्ज करनी पड़ी। पांचो आरोपियों जिन्होंने घटना को अंजाम दिया और इसका वीडिया बनाया पुलिस की गिरफ्त में है। छठवां आरोपी जिसने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर किया उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एक चुनावी सभा के दौरान इस दुष्कर्म का जिक्र किया था। उन्होंने बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती से सवाल किया था कि उन्होंने राजस्थान सरकार से अपना समर्थन वापस क्यों नहीं लिया है। प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार पर मामले को दबाने का आरोप लगाया था।

उचित कार्रवाई न करने पर राजस्थान सरकार ने अलवर के पुलिस अधीक्षक राजीव पचार और थानाध्यक्ष सरदार सिंह को निलंबित कर दिया है। सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी पर इस मामले का राजनीतिकरण किए जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए हर आवश्यक कदम उठाया है। 

भाजपा के राज्यसभा सासंद किरोड़ी लाल मीणा मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और उन्होंने घटना की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। मंगलवार को मीणा के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। वह दौसा के रेवले ट्रैक को ब्लॉक करने की कोशिश कर रहे थे। मीणा को प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करने के कारण पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को राजस्थान में अलवर सामूहिक दुष्कर्म की पीड़िता से मुलाकात करेंगे। अनुसूचित जाति की महिला के साथ कथित तौर पर 26 अप्रैल को पांच लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। केवल इतना ही नहीं आरोपियों ने उसके पति को बुरी तरह मारा था और उनके पास मौजूद दो हजार रुपये लूट लिए थे। 

राहुल चुनाव प्रचार के लिए पंजाब जाने से पहले पीड़िता से मिलेंगे। पंजाब में आखिरी चरण की सीटों के लिए रविवार को मतदान होने हैं। गांधी महिला से ऐसे समय पर मुलाकात करने के लिए जा रहे हैं जब राज्य सरकार को भाजपा इस मामले को लेकर घेर रही है। जब पीड़िता पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुंची तो उसे यह कहकर भेज दिया गया कि अभी चुनाव हैं।  

राजस्थान सरकार ने एफआईआर दर्ज करने में देरी की। दुष्कर्म का वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया तो दबाव में आकर पुलिस को एफआईआर दर्ज करनी पड़ी। पांचो आरोपियों जिन्होंने घटना को अंजाम दिया और इसका वीडिया बनाया पुलिस की गिरफ्त में है। छठवां आरोपी जिसने इस वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर किया उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एक चुनावी सभा के दौरान इस दुष्कर्म का जिक्र किया था। उन्होंने बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती से सवाल किया था कि उन्होंने राजस्थान सरकार से अपना समर्थन वापस क्यों नहीं लिया है। प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार पर मामले को दबाने का आरोप लगाया था।

उचित कार्रवाई न करने पर राजस्थान सरकार ने अलवर के पुलिस अधीक्षक राजीव पचार और थानाध्यक्ष सरदार सिंह को निलंबित कर दिया है। सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी पर इस मामले का राजनीतिकरण किए जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए हर आवश्यक कदम उठाया है। 

भाजपा के राज्यसभा सासंद किरोड़ी लाल मीणा मामले को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और उन्होंने घटना की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। मंगलवार को मीणा के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। वह दौसा के रेवले ट्रैक को ब्लॉक करने की कोशिश कर रहे थे। मीणा को प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करने के कारण पुलिस ने हिरासत में ले लिया।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here