Woman Sexual Harassment In Hospital At Kathoomar In Alwar – अलवर: बहू का प्रसव कराने आई महिला के साथ अस्पताल में दुष्कर्म

0
76
Court Convict Asp Over Fixing Final Report In Sexual Harassment - राजस्थान : दुष्कर्म मामले में फाइनल रिपोर्ट लगाने पर अदालत ने एएसपी को माना दोषी


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर
Updated Fri, 10 May 2019 11:18 AM IST

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : social media

ख़बर सुनें

थानागाजी में राह चलते दंपति को रोककर सामूहिक दुष्कर्म के मामले के बाद कठूमर के सामुदायिक अस्पताल के प्रसव कक्ष (डिलीवरी रूम) में दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोप है कि बहू की डिलीवरी कराने आई 36 वर्षीय महिला से अस्पताल की 108 एंबुलेंस के चालक ने दुष्कर्म किया और फरार हो गया। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है।

कठूमर थानाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि खेड़ली थाना क्षेत्र निवासी पीड़िता ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह 5 मई को कठूमर सामुदायिक अस्पताल में बहू को डिलीवरी कराने लाई थी। प्रसव के बाद छुट्टी नहीं मिल पाने से वो 7 मई की रात अस्पताल में बहू के साथ रुकी हुई थी। इस दौरान अस्पताल की एंबुलेंस का चालक रामनिवास गुर्जर वहां आया और कहा कि प्रसव के कागजात तैयार कराने हैं। उसे साथ चलना होगा। 

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह भरोसा करके चालक के साथ कागजात बनवाने चली गई। इसके बाद आरोपी उसे प्रसव कक्ष में ले गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। पीड़िता ने कहा कि आरोपी ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर दुष्कर्म किया और फिर अस्पताल से भाग गया। पीड़िता ने कहा, लोकलाज के डर से किसी को ये बात नहीं बताई। बहू भी साथ थी, इसलिए उसे अपने गांव खेड़ली पहुंचाया और इसके बाद परिजनों को आपबीती बताई। गुरुवार को थाने में घटना की रिपोर्ट दी है।

महिला ने स्टाफ से नहीं की कोई शिकायत

अस्पताल प्रभारी डॉ. लोकेश मीणा का कहना है अस्पताल में रात को एक सहायक नर्स (एएनएम) सहित दो कर्मचारी तैनात रहते हैं। पीड़िता ने घटना के बाद उन्हें या अगले दिन मेरे ड्यूटी पर आने पर कोई शिकायत नहीं की। गुरुवार को पुलिस से घटना की जानकारी मिलने पर अलवर सीएमएचओ को जानकारी दी गई।

थानागाजी में राह चलते दंपति को रोककर सामूहिक दुष्कर्म के मामले के बाद कठूमर के सामुदायिक अस्पताल के प्रसव कक्ष (डिलीवरी रूम) में दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोप है कि बहू की डिलीवरी कराने आई 36 वर्षीय महिला से अस्पताल की 108 एंबुलेंस के चालक ने दुष्कर्म किया और फरार हो गया। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है।

कठूमर थानाधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि खेड़ली थाना क्षेत्र निवासी पीड़िता ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि वह 5 मई को कठूमर सामुदायिक अस्पताल में बहू को डिलीवरी कराने लाई थी। प्रसव के बाद छुट्टी नहीं मिल पाने से वो 7 मई की रात अस्पताल में बहू के साथ रुकी हुई थी। इस दौरान अस्पताल की एंबुलेंस का चालक रामनिवास गुर्जर वहां आया और कहा कि प्रसव के कागजात तैयार कराने हैं। उसे साथ चलना होगा। 

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह भरोसा करके चालक के साथ कागजात बनवाने चली गई। इसके बाद आरोपी उसे प्रसव कक्ष में ले गया और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। पीड़िता ने कहा कि आरोपी ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंसकर दुष्कर्म किया और फिर अस्पताल से भाग गया। पीड़िता ने कहा, लोकलाज के डर से किसी को ये बात नहीं बताई। बहू भी साथ थी, इसलिए उसे अपने गांव खेड़ली पहुंचाया और इसके बाद परिजनों को आपबीती बताई। गुरुवार को थाने में घटना की रिपोर्ट दी है।

महिला ने स्टाफ से नहीं की कोई शिकायत

अस्पताल प्रभारी डॉ. लोकेश मीणा का कहना है अस्पताल में रात को एक सहायक नर्स (एएनएम) सहित दो कर्मचारी तैनात रहते हैं। पीड़िता ने घटना के बाद उन्हें या अगले दिन मेरे ड्यूटी पर आने पर कोई शिकायत नहीं की। गुरुवार को पुलिस से घटना की जानकारी मिलने पर अलवर सीएमएचओ को जानकारी दी गई।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here